What is difference between White hat SEO and black hat SEO

White hat SEO vs black hat SEO Hindi

वाइट हैट and black hat SEO मे क्या अंतर् है : जब भी आप अपनी कोई वेबसाइट या ब्लॉग बनाते है तो आप चाहते है की वेबसाइट पर ज्यादा से ज्यादा लोग विजिट करे और इसलिए ही आप एसइओ करते है | एसइओ वो process है जिसमे आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन पर अच्छी रैंक के लिए optimize किया जाता है | सर्च इंजन पर वेबसाइट को अच्छी पोजीशन दिलाने के लिए आप बहुत सारे प्रोसेस अपनाते है और इन तरीको मे कुछ अच्छे और कुछ तरीके गलत भी हो सकते है | किसी भी वेबसाइट को optimize करने व् ट्रैफिक बढ़ाने के लिए जो एसइओ methods use किये जाते है उनको हम दो category मे divide कर सकते है –

  1. White hat एसइओ
  2. Black hat एसइओ 

    White Hat vs Black Hat SEO Hindi

    White Hat vs Black Hat SEO

White Hat SEO : वाइट हैट एसइओ उन एसइओ मेथड्स को कहते है जो की वेबसाइट optimization के लिए, सर्च इंजन के सभी rules and policies को फॉलो करते हुए सही व् लीगल techniques के साथ SERP पर वेबसाइट की पोजीशन इनक्रीस करते है । क्योकि वाइट हैट एसइओ सभी rules फॉलो करते हुए किये जाता है इसलिए इसके result आने मे थोड़ा टाइम भी लग सकता है। White Hat एसइओ सारे ethics के साथ किया जाता है इसलिए इसको ethical एसइओ भी कहते है |

वाइट हैट एसइओ के लिए एक बात और कही जाती है की वाइट हैट strategies कस्टमर या विजिटर experience के base पर आपकी वेबसाइट की true वैल्यू add करने पर ज्यादा ध्यान रखता है | अगर आप visitors के साथ लॉन्ग टर्म रिलेशनशिप रखना चाहते है तो आपको उनके हिसाब से कंटेंट व् वेबसाइट structure रखना होगा जिससे उनके लिए आपकी वेबसाइट पर आना एक अच्छा एक्सपीरियंस हो | जब आप विसिटोर्स को genuine व् उपयोगी कंटेंट ऑफर करते है तो विसिटोर्स आपकी वेबसाइट को याद रखता है और वापस आने के चान्सेस भी ज्यादा होते है । अगर विजिटर का आपकी वेबसाइट के साथ एक्सपीरियंस अच्छा होता है तो वो आपकी वेबसाइट को किसी दोस्त व् जानकर को refer भी कर सकता है । यही है वाइट हैट एसइओ | 

Read Also – Learn SEO Guide  

Read Also – What is SEO 

वाइट हैट एसइओ का जयदा focus Visitors के साथ engagement करके रखने पर ही होता है और इस लिए आपकी वेबसाइट की design बहुत easy to move and understand होनी चाहिए जिससे की विजिटर easily वेबसाइट पर surf कर सके |

Example of White HAT एसइओ techniques  –

  1. अच्छे एवं सही बैकलिंक्स
  2. अच्छे कंटेंट व् सर्विसेज
  3. कीवर्ड रिसर्च
  4. इजी साइट स्ट्रक्चर
  5. साइट परफॉरमेंस
  6. टाइटल व् URL मे जरुरी कीवर्ड्स हो
  7. कीवर्ड रिच मेटा टैग्स

Black hat SEO : जब कोई वेबसाइट ओनर आक्रामक एसइओ तकनीक एवं टैक्टिस को उपयोग करते हुए ट्रैफिक बढ़ाने के लिए सारा फोकस सर्च इंजन पर करता है और अपने विसिटोर्स या कस्टमर्स की जरूरत का ध्यान रखे बिना सर्च इंजिन्स guidelines के रूल्स को ब्रेक करते हुए एसइओ करता है तो इसको ब्लैक हैट SEO कहते है | ब्लैक हैट गलत तरीको को अपनाते हुए जल्दी अच्छे रिजल्ट प्राप्त करने के लिए किये जाते है इसलिए इसको unethical एसइओ भी कहते है | Black Hat SEO करने वालो पर हमेशा वेबसाइट penalized होने का खतरा रहता है और इसके साथ साथ search engine वेबसाइट की indexing भी remove भी कर सकते है |

ज़्यदातर ब्लैक हैट technique use करने वाले लोगो मे वो लोग होते है जिनका business nature या जिनका purpose long term goal न होकर शार्ट टर्म होता है एवं जिनको अपने बिज़नेस का जल्दी return चाहिए होता है | Example of Black Hat SEO techniques-

  1. स्पैम इंडेक्सिंग
  2. पेज स्वैपिंग 
  3. क्लोकिंग
  4. मिरर वेबसाइट
  5. मेटा टैग स्टफ़िंग
  6. कीवर्ड Stuffing
  7. Article Spinning
  8. Invisible Text 
  9. स्पैम और डुप्लीकेट कंटेंट

Read Also – Top 10 Best Hindi Tech Blog

Read Also – what is backlinks in seo

Leave a Reply