What is Inheritance definition Types of इनहेरिटेंस in C++ Single multiple

Inheritance क्या है और यह कितने टाइप का होता है

Inheritance ka hindi meaning है विरासत या अपने से पहले वाली किसी पीढ़ी के properties को लेना| Object-oriented programming के बहुत सारे features है उनमे से एक सबसे इम्पोर्टेन्ट फीचर है inheritance | इनहेरिटेंस एक ऐसी तकनीक है जिसमे एक बार लिखे गए कोड का reuse आसानी से पॉसिबल होता है| यह कंप्यूटर प्रोग्रामर को बेस क्लास या existing क्लास से नयी क्लास बनाना (derived class) allow करता है| जब derived क्लास, बेस क्लास की प्रॉपर्टीज एंड behavior को inherit करती है तो उसके सभी फीचर्स use किये जा सकते है और साथ साथ नयी क्लास के अपने फीचेर्स भी हो सकते है| इसको use करने से कोड की functionality को reuse करने के साथ एप्लीकेशन का implementation फ़ास्ट होने से टाइम सेव होता है|

जब नयी क्लास क्रिएट की जाती है तो प्रोग्रामर पूरा नया कोड लिखकर नए डाटा मेंबर व् फंक्शन बनाने की जगह पहले से बनी हुई क्लास की properties use कर सकती है| यहाँ पर पहले से बनी हुई क्लास को बेस क्लास या पैरेंट क्लास (or Super Class) एवं नयी क्लास जो की बेस क्लास की properties को इन्हेरिट (या उसकी प्रॉपर्टीज को लेती है) करती है उसको derived क्लास (or sub Class) कहते है|

Read Also – What is Object Oriented Programming

Read Also – What is Polymorphism

सबसे सरल शब्दों मे inheritance का उदहारण होगा – उस बच्चे के सभी अच्छे गुण अपने पिता से विरासत मे मिले है। यहाँ पर अगर प्रोग्रामिंग से इसको compare किया जाये तो पिता को सुपर क्लास व् बच्चे को बेस क्लास कहेंगे और जो भी अच्छे गुण है उनको प्रॉपर्टीज कहेंगे जो की सुपर क्लास से बेस क्लास ने inherit की है| 

Inheritance को कब और कहाँ उपयोग करे?

इसको एक example से explain करते है – मान लेते है बहुत सारी गाड़ियां है और गाड़ियों के लिए एक एप्लीकेशन क्रिएट कर रहे है| इस एप्लीकेशन मे एक सुपर क्लास व्हीकल है एंड तीन सब क्लास कार, ट्रक एंड बस है। यहाँ पर तीन मेथड्स है जो की तीनो सब क्लास मे काम आते है उनके नाम है – फ्यूलअमाउंट(), कैपेसिटी(), अप्लाईब्रेक्स()। अब क्योकि हम इन्हेरिटेंस का उपयोग कर रहे है तो हम इन तीनो मेथड्स को एक बार सुपर क्लास व्हीकल मे डिफाइन कर देंगे और फिर तीन बेस क्लास मे जरुरत अनुसार इन तीन मेथड्स को inherit कर लेंगे। इससे तीनो बेस क्लास मे कोड reuse नहीं करना होगा एवं टाइम भी सेव होगा ।

यहाँ पर अगर इन्हेरिटेंस का उपयोग नहीं करते तो हमको तीनो बेस क्लास मे इन तीनो मेथड्स को अलग अलग डिफाइन करता।

What is Inheritance definition Types in hindi

Inheritance Example

इनहेरिटेंस की मोड्स –

Inheritance मे बेस क्लास को तीन methods पब्लिक, प्रोटेक्टेड or प्राइवेट mode से inherit किया जा सकता है| इसमें से प्रोटेक्टेड or प्राइवेट inheritance का बहुत कम but पब्लिक inheritance बहुत जयदा उपयोग मे किया जाता है| आईये इन तीनो के बारे मे कुछ जानते है –

  1. पब्लिक मोड : अगर हम किसी सब क्लास को पब्लिक बेस क्लास से drive करते है तो बेस क्लास के पब्लिक मेंबर भी derived क्लास मे पब्लिक बन जाएंगे एवं बेस क्लास के प्रोटेक्टेड मेंबर्स derived क्लास मे प्रोटेक्टेड होंगे| बेस क्लास के प्राइवेट मेंबर्स कभी भी सब क्लास मे inherited नहीं होंगे |
  2. प्रोटेक्टेड मोड : अगर सब क्लास को प्रोटेक्टेड बेस क्लास से derive किया जाता है तो बेस क्लास के पब्लिक एवं प्रोटेक्टेड मेंबर्स derived क्लास मे प्रोटेक्टेड बन जायँगे| बेस क्लास के प्राइवेट मेंबर्स सब क्लास मे कभी भी inherit नहीं किये जा सकते|
  3. प्राइवेट मोड : अगर हम किसी सब क्लास को प्राइवेट बेस क्लास से derive करते है तो बेस क्लास के पब्लिक एवं प्रोटेक्टेड मेंबर्स derived क्लास मे प्राइवेट बन जायेंगे | बेस क्लास के प्राइवेट मेंबर्स सब क्लास मे कभी भी inherit नहीं किये जा सकते|

Read Also – What is c programming language

Read Also – What is PHP Programming Language

Read Also – What is JAVA Programming Language 

Types of Inheritance-

  1. Single Inheritance : इस टाइप के इनहेरिटेंस मे एक derived क्लास केवल एक बेस क्लास को inherits करती है| यह सबसे सिंपल टाइप का Inheritance है| इसमें सिंगल बेस क्लास एंड सिंगल derived क्लास होती है|
  2. Multiple Inheritance : इस टाइप के इनहेरिटेंस मे सिंगल derived क्लास दो या दो से ज्यादा बेस क्लास से inherit की जा सकती है|
  3. Hierarchical Inheritance : इस इनहेरिटेंस मे बहुत सारी derived classes एक सिंगल बेस क्लास से inherit होती है |
  4. Multilevel Inheritance: इस इनहेरिटेंस मे derived क्लास एक क्लास से inherits होती है जो की खुद भी किसी और class से inherit की गयी होती है| जो एक क्लास की सुपर क्लास या बेस क्लास होती है वो दूसरे की सब क्लास हो सकती है|
  5. Hybrid Inheritance : यह Hierarchical एंड Multilevel इनहेरिटेंस का combination होती है|

Inheritance के फायदे -अगर किसी application को इनहेरिटेंस का उपयोग करते हुए बनाया जाता है तो उसे ये फायदे मिलते है –

  1. Time Saveing |
  2. Less Memory usages |
  3. Less execution time|
  4. Better performance|
  5. Reduce Redundancy 

Leave a Reply