सॉफ्टवेयर क्या होता है What is computer software definition examples type

सॉफ्टवेयर क्या होता है explain type and example of software meaning

सॉफ्टवेयर तथा उसके प्रकार :  आप सभी ये तो जानते ही होंगे की कोई भी कंप्यूटर hardware का बना होता है मतलब किसी भी कंप्यूटर को बनाने के लिए अलग अलग हार्डवेयर पार्ट्स जैसे हार्ड डिस्क, RAM, motherboard, CPU आदि काम मे लिए जाते है लेकिन यहाँ पर सवाल ये उठता है की इन सभी hardware parts को manage कौन करता है और ये work कैसे करते है? कोई तो होगा जो इनको instructions देता होगा, कोई तो होगा जो की इन सभी हार्डवेयर parts को अलग अलग काम करने के लिए help करता होगा| ये और कोई, कोई और नहीं केवल और केवल software है| सॉफ्टवेयर ही इन सभी hardware parts को manage करता है और ये सभी parts जिस काम के लिए बने है वो काम करने मे help करता है| अब ये तो हुआ सॉफ्टवेयर का काम लेकिन सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते है? सॉफ्टवेयर की definition क्या है एवं ये सॉफ्टवेयर कौन बनाता है? आइये ये सभी बाते जानने का प्रयास करते है| Click here to read computer software in English 

Read Also – What is computer

Read Also – Computer Uses

What is computer software

What is computer software

Software Definition: जैसे की ऊपर बताया गया की सॉफ्टवेयर सभी हार्डवेयर parts को instruction देने के साथ उनको मैनेज करते है तो इसको ही आगे बढ़ाते हुए हम कहते है की software बहुत सारे instructions का collections होता है जो की user को कंप्यूटर व् इसके हार्डवेयर से interact करने मे हेल्प करता है जिससे की user task perform किये जा सके| बिना किसी software के सभी कंप्यूटर useless है और वो एक dead electric डिवाइस है जो की कुछ काम नहीं कर सकते| जैसे की कंप्यूटर मे जब तक operating system सॉफ्टवेयर नहीं होगा तब तक कंप्यूटर पर कोई भी काम नहीं किया जा सकता, फिर OS सॉफ्टवेयर install करने के बाद अगर आपको internet पर कोई information search करनी है तो आपको इसके लिए इंटरनेट browser सॉफ्टवेयर चाहिए होगा| इसी प्रकार आपके कंप्यूटर पर installed ms word, ms excel या ms paint software अलग अलग काम perform कर सकते है| इस प्रकार सॉफ्टवेयर का मतलब है – set of instructions जो की किसी device को मैनेज करने या फिर आपके किसी task को perform करने मे help करते है|

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर बनाने के लिए आपको programming language की knowledge की जरूरत होती है| ये programming कोड machine-level कोड भी हो सकते है और high level language code भी | अब आप मशीन लेवल language use करे या फिर हाई लेवल language ये depend करता है की आप किस purpose के लिए software बना रहे है जैसे OS level के सॉफ्टवेयर बनाने के लिए आपको मशीन या hardware को control करना होता है तो आपको machine level कोड आना चाहिए जबकि browsers, या किसी दूसरे type की यूजर एप्लीकेशन बनाने के लिए आप high level language use कर सकते है| एक बार सॉफ्टवेयर बनाने के बाद जरुरत अनुसार उनको अपडेट भी किया जा सकता है|

Software vs hardware : जैसे की सॉफ्टवेयर अलग अलग programs or applications के लिए एक general टर्म है वैसे भी hardware term computer के अलग अलग पार्ट्स या physical पार्ट्स को कहा जाता है | यहाँ पर ध्यान देने के बात है की किसी भी सॉफ्टवेयर को आप केवल महसूस कर सकते है उसको कंप्यूटर स्क्रीन पर देख सकते है लेकिन फिजिकल टच नहीं कर सकते जबकि हार्डवेयर को आप टच भी कर सकते है एवं देख भी सकते है |

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर को उनके काम के आधार पर दो मेन केटेगरी मे डिवाइडेड किया गया है – (सॉफ्टवेयर टाइप और सॉफ्टवेयर के प्रकार) :

  • Application software:  Application सॉफ्टवेयर को बहुत बार applications, productivity programs या फिर end-user प्रोग्राम्स भी कहा जाता है क्योकि ये user की requirement के base पर design किये जाते है एवं user के specific goal या टास्क को fulfill करने मे हेल्प करते है जैसे क्रिएटिंग डाक्यूमेंट्स, स्प्रेडशीट्स, डेटाबेस, ईमेल प्रोग्राम्स या फिर प्लेइंग गेम्स| Application software ज्यादातर निर्धारित टास्क को परफॉर्म करते है और ये काम छोटा से लेकर कितना भी बड़ा हो सकता है (according to user requirement) जैसे कैलकुलेटर एप्लीकेशन से लेकर काम्प्लेक्स वर्ड प्रोसेसिंग एप्लीकेशन कुछ भी हो सकता है| Examples of Application software –
    • MS Word
    • DBMS  Software – MS access, Oracle etc
    • Web browsers – IE, Chrome etc 
    • Games Software 
    • CAD/CAM software
  • System software:  ये सॉफ्टवेयर directly कंप्यूटर हार्डवेयर पर ऑपरेट किये जा सकते है जिससे की user व् दूसरे सॉफ्टवेयर को जरुरत अनुसार functionality provide की जा सके | सिस्टम सॉफ्टवेयर एक तरह से हार्डवेयर व् user एप्लीकेशन के बिच मिडिल लेयर का काम करती है | Example of System software –

2 Comments

  1. Rakesh April 7, 2018
    • Amit Saxena April 9, 2018

Leave a Reply