डोमेन नाम क्या होता है डोमेन नाम कैसे ख़रीदे Register Domain Name in hindi

Domain नाम क्या होता है | अच्छे डोमेन नाम कैसे और कहाँ से purchase करे

डोमेन नाम क्या होता है यह topic हम पहले भी discuss कर चुके है लेकिन यहाँ पर थोड़ा विस्तार मे बता रहे है की domain name क्या होता है and domain name खरीदने के लिए भी कुछ tips दे रहे है |

what is domain name and domain name kaha se purchase kare hindi

domain name

Domain name system को short मे DNS भी कहा जाता है | DNS internet domain and host name को IP address मे एवेम IP address को host name मे translate करने का काम करता है | जब भी हम computer के browser मे किसी website का नाम type करते है तो वो website उसके IP address मे convert हो जाता है | Domain name IP address मे translate हो जाता है लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की ये क्यों होता है | ऐसा इसलिए होता है क्योकि कोई भी computer जब भी network मे होता है तो वो IP address को समझता है न की किसी host नाम को | किसी भी website का नाम alphabets मे इसलिए रखा जाता है क्योकि वो हमारे लिए easy होता है एवेम हम names को easily याद रख सकते है | सोच कर दिखेये की अगर host name न हो and केवल IP Address याद रखने हो या फिर अगर IP address से website को access करना हो तो क्या हमारे लिए IP address याद रखना possible हो पायेगा – नहीं | तो DNS एक service होती है जो की Domain names (website का नाम) को IP address मे एवेम IP address को domain name (website) मे convert करती है | यहाँ पर जैसे बताया गया है की domain name किसी website के name को कहते है जैसे की हमारी website का नाम है – Hinditechy.com तो यह domain name है | 

Read also What is IP Address

Read Also – Web Hosting kya hai

DNS name resolve करने के साथ साथ servers पर एक database maintain करता है जो की बहुत सारे system को आपस मे connect करके बनता है | लेकिन कुछ servers है जो की complete database (name and IP) को maintain करके रखते है जिनको की root servers कहा जाता है | ये root server अलग अलग independent private companies के द्वारा maintain होते है | आज की date मे 13 root servers है जिनको की A से लेकर M तक नाम दिए गए है | Root servers की list यहाँ देखे – https://www.iana.org/domains/root/servers

DNS कैसे काम करता है : DNS एक client server network communication system पर based service है जिसमे की client, server से request करता है एवेम server उस request को पूरा करता है | Request मे एक नाम दिया जाता है एवेम जिसका result IP address होता है इसको forward lookup DNS कहा जाता है | जब client request मे IP address को भेजता है and reply मे name मिलता है तो इसको reverse DNS lookup कहा जाता है | DNS forward lookup and reverse look के लिए एक database maintain करता है जिसकी help से यह request आने पर IP to name and name to IP मे convert करता है |इसको हम एक example से समझते है – मान लेते है की आपने browser मे type किया www.hinditechy.com तो DNS उसके corresponding IP address को DNS database मे search करता है एवेम जैसे की उसको website का IP address मिल जाता है तो वो होस्टिंग सर्वर को locate करके requested pages open कर देता है |

DNS caches : जब request का volume बहुत ज्यादा हो जाता है तो caching को utilize किया जाता है | जो भी recently accessed website होती है DNS उनकी local copy रखता है (temp) जबकि original तो जिस DNS server से belong करता है वही रहती है | Local copy होने का फायदा ये मिलता है की network के servers पर DNS को resolve करने का load नहीं बढ़ता और जो भी local resolve की जा सकती है वो resolve हो जाती है लेकिन इसका एक नुक्सान ये भी हो सकता है की अगर DNS cache outdated हो जाये तो DNS resolve नहीं होगा और website open नहीं होगी |

जब आप internet से connect होते है तो आपका ISP automatically आपको DNS server (Private DNS Server) assign कर देता है लेकिन आप चाहे तो आप उन DNS server के आलावा दूसरे DNS server जो की public and free DNS servers कहलाते है को अपने computer पर use कर सकते है | कुछ सबसे popular free public DNS server है – Google (DNS server – 8.8.8.8 and 4.4.4.4), OpenDNS (20867.222.222, 208.67.220.220), DNS.Watch (82.200.69.80, 84.200.70.40) etc. Read also – 

What is Private and Public DNS Server and List of Public DNS Server

आपको Domain name के बारे मे विस्तार से explain किया गया है तो आप समझ गए होंगे की एक अच्छे domain name को purchase करना कितना जरुरी है क्योकि लोगो को domain name ही याद रहता है न की IP address | इसके साथ साथ Domain name ही first impression होता है किसी website का | आइए देखते है की अच्छे domain name को purchase करने के लिए क्या जरुरी बाते है –

Tips to Purchase good domain name –

  1. Choose Short Domain Name
  2. याद रखने, टाइप करने and बोलने मे easy हो |
  3. Domain name किसी दूसरे से मिलता जुलता न हो एवेम unique हो जिसको आप brand कर सके |
  4. Domain name मे special character जैसे की hyphen and numbers को avoid करे |
  5. कोशिश करे की .Com domain name मिले जिससे की पूरी दुनिया मे सभी लोग पहचानते है
  6. Domain name आपके business के नाम से या business profile से मिलता जुलता होना चाहिए
  7. Domain Name reputed and branded website से ही purchase करे क्योकि अगर आप कही से भी खरीद लेंगे तो renew के time पर आपको परेशानी आ सकती है जैसे की company बंद होने का risk, company के dashboard, database or software updated न हो या किसी और तरह की problem आने पर company or customer care से support नहीं मिल पाना | 

हम कुछ companies के नाम बता रहे है जहाँ से आप domain name purchase कर सकते है –

  1. BiGROCK – Click Here to buy from Bigrock
  2. GoDaddy – 
  3. BlueHost – 
  4. HostGator – 
  5. iPage – 

6 Comments

  1. Milind Moreshwer Bawankule April 2, 2017
    • Amit Saxena April 2, 2017
  2. Shalini May 9, 2017
  3. Vikas May 17, 2017
  4. Israr October 10, 2017
  5. bhagwat rajwade October 27, 2017

Leave a Reply