What is PING Command in Computer Network | PING Me meaning in Chat

PING Test Command in Computer Network

PING Me meaning in Chat : अगर चैट करते वक़्त कोई आपको बोलता है “ping me” after sometime या “ping me” later on या फिर कुछ और बोलते हुए “ping me” कहता है तो उसका मतलब हिंदी मे होता है की मुझे याद दिलाएं | पींग me word बहुत पॉपुलर हो गया है और लोग अपने conversation मे इसका use करने लगे है और बात करते वक़्त बहुत बार इसका use करते है| जब आपको कोई बोलता है – पींग me later on तो इसका मतलब हो सकता है की थोड़ी देर बाद मुझे याद करना, याद दिलाना, मुझे कॉल करना या फिर मैसेज करना | बिलकुल सिंपल लैंग्वेज मे अगर बताये तो पिंग का मतलब notify करने से है| लेकिन ये “पींग” word आया कहाँ से? ये जानने के लिए आईये समझते है कंप्यूटर नेटवर्क को क्योकि यह word actually मे कंप्यूटर नेटवर्क से ही लिया गया है |   

What is PING Command in Computer Network : पींग एक नेटवर्क utility program होता है जिसकी full form Packet InterNet Groper होती है | Ping utility एक command की form मे होती है एवं पिंग कमांड की हेल्प से कोई भी user किसी IP address or domain name के अस्तित्व को चेक करने के साथ उसकी स्पीड को भी पता लगा सकता है| जब आप पींग कमांड देकर किसी होस्ट Name और IP को test करते है तो यह check करता है की पिंग के साथ दिए गया IP या domain exist करता है या नहीं और अगर exist करता है तो उससे कितनी देर मे reply आता है |

पींग command की हेल्प से आप ये पता लगा सकते है की network मे remote device जैसे की website, computer या सर्वर current machine से reachable or connected है या नहीं और अगर available है तो latency क्या है | Latency का मतलब कितनी देर मे reply मिल सकता है | जब किसी machine से किसी होस्ट को पिंग किया जाता है तो यह एक डाटा packet, remote machine को भेजता है एवं अगर इसको वापस डाटा packet मिल जाता है तो इसका मतलब है की दोनों devices के बिच connection सही है| इसलिए ही कहा जाता है की ping आपके network connection का reaction time है –आपके पिंग request भेजने के कितनी देर बाद आपको कितनी तेजी से response मिलता है | जितना तेजी से response मिलेगा उतना ही तेज व अच्छा network connection माना जायगा | पींग को milliseconds (ms) मे measure करते है |

Read Also – List of Popular CISCO Commands

Read Also –List of Popular Windows DOS Commands

Read Also – List of Popular Windows Run Commands

पींग का Standard output result निचे दिए गए अनुसार हो सकता है – 

  1. सामने वाले computer का IP address result मे आता है |
  2. Request send करने व् receive करने के बिच का लगने वाला Length of time (in milliseconds) मे आता है |
  3. अगर target होस्ट online or available नहीं हो तो error शो करता है जैसे की “Request Timed Out” or “Ping request could not find host. Please check the name and try again”| 

How to ping an IP address or website, पींग कमांड को कैसे use करे  – 

  1. Open Command Prompt 
  2. Type Ping IP-Address or Host-Name – See below example (Ping www.google.com)
What is PING command in Hindi

What is PING command in Hindi

आप Ping command को use करके ये भी ensure कर सकते है की आपके computer पर TCP/IP सही तरह से configure हो गया है | इसके लिए आपको Loopback address (127.0.0.1) पर ping करना होता है |

Ping 127.0.0.1

पिंग कमांड के साथ कुछ options use किये जा सकते है | निचे देखे  –

  1. -n Count : -n के साथ जो भी number देते है उतनी बार रिमोट मशीन से पिंग करता है | By default 4 times पिंग करते है (जैसे ऊपर image मे दिया गया  है)| Example –
    1. C:\Users>ping -n 6 www.google.com : Result will be – Pinging www.google.com [216.58.199.132] with 32 bytes of data:
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=33ms TTL=53
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=34ms TTL=53
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=33ms TTL=53
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=33ms TTL=53
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=33ms TTL=53
      Reply from 216.58.199.132: bytes=32 time=33ms TTL=53Ping statistics for 216.58.199.132:
      Packets: Sent = 6, Received = 6, Lost = 0 (0% loss),
      Approximate round trip times in milli-seconds:
      Minimum = 33ms, Maximum = 34ms, Average = 33ms
  2. -w Timeout : इस ऑप्शन की हेल्प से app timeout एडजस्ट कर सकते है | By default timeout 4 seconds का होता है  | 
  3. -l Size : इस ऑप्शन की हेल्प से पिंग पैकेट की साइज adjust की जा सकती है | डिफ़ॉल्ट पैकेट साइज 32 bytes होती है  |
  4. -f : इसकी हेल्प से हम यह instruction देते है की पिंग packet के बिट को fragment न करे |  
  5. /? : कमांड से related help के लिए |

2 Comments

  1. Rupesh kumar August 6, 2017
  2. ajay maurya April 12, 2018

Leave a Reply