ऑफ पेज SEO क्या है और कैसे करे Off Page Optimization SEO in Hindi

Off Page Optimization SEO Kya hota hai

Off Page SEO : SEO का मतलब सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन होता है | सर्च इंजन पर वेबसाइट की रैंकिंग को इम्प्रूव करने के लिए बहुत सारे अलग अलग मेथड उपयोग किये जाते है जिनमे से कुछ मेथड “वेबसाइट पर” implement किये जाते है एवं कुछ methods “वेबसाइट के बाहर” | वो सभी मेथड जो की वेबसाइट के “बाहर” use करते हुए सर्च इंजन पर वेब्सीटेस की रैंकिंग एवं ट्रैफिक increase किये जाते है उनको Off page Optimization कहा जाता है | Off page optimization मे जितने जयदा possible हो उतने high-quality backlinks (incoming links) क्रिएट किये जाते है जिससे search engine का वेबसाइट पर ट्रस्ट एवं रैंकिंग इम्प्रूव हो | For Example –  जब आप किसी दूसरी साइट पर गेस्ट पोस्ट लिखते है या फिर किसी दूसरे वेबसाइट पर जा कर comment करते है तो इसका मतलब आप off page optimize कर रहे है क्योकि यह प्रमोशन, आपकी website को टच किये बिना किया जाता है | Read On-Page Optimization 

Off Page Optimization

Off Page Optimization

Off Page Optimizatoin मे वेबसाइट की लिंक building की जाती है लेकिन लिंक बिल्डिंग technique के अलावा बहुत सारे दूसरे factors को भी उपयोग किया जाता है | जैसे

  1. यूजर इंगेजमेंट के तरीके (reviews, comments etc)
  2. सोशल मीडिया इंटरेक्शन (Facebook, Instagram, Pinterest, Tweeter etc)
  3. सोशल बुकमार्किंग
  4. फोरम पोस्टिंग

Read Also – Learn SEO Guide  

Read Also – What is SEO 

इस प्रकार Off-page SEO actually आपके ब्रांड (website) को ऑनलाइन एंड ऑफलाइन optimize करने का वो तरीका है जिसमे कंटेंट, ब्लॉगर रिलेशनशिप एवं सोशल रिलेशनशिप्स को use करते हुए search engine के लिए link building की जाती है | इन सभी मेथड को use करने का रीज़न link building करते हुए आपके प्रोडक्ट की ब्रांड वैल्यू बढ़ाना होता है जिससे की वेबसाइट पर positive ट्रैफिक increase हो |

क्योकि इसमें आपको दूसरी वेबसाइट या दूसरे ऑनलाइन प्लेटफार्म पर जा कर ब्रांड वैल्यू एंड लिंक्स बनाने होते है इसको एक लॉन्ग टर्म एंड टाइम consuming प्रोसेस माना जाता है | Off page ऑप्टिमाइजेशन मे जब backlinks बनाये जाये तो ज्यादा से ज्यादा कोशिश ये होनी चाहिए की backlinks अच्छी अथॉरिटी साइट्स से हो और बैकलिंक्स बनाते वक़्त स्पैमिंग ना करे | ऐसा करने से आपकी वेबसाइट को नुकसान भी हो सकता है | ऑफ पेज factors मे आप जो भी काम करते है वो एक तरह से बैकग्राउंड मे चलते रहता है और आपकी वेबसाइट की डिज़ाइन या किसी दूसरी तरह का चेंज नहीं किया जाता जिसमे रिजल्ट टाइम के साथ साथ दिखने लगते है |

“Off page optimisation” kya etna important hai?

सर्च engines को कहा जाता है की ये दो पहियों पर चलता है ऑन पेज एवं ऑफ पेज factors | अगर इन दो मे से किसी का भी बैलेंस ख़राब है तो SEO result अच्छे नहीं आएंगे | बहुत सारे लोग Off page optimization को छोड़ कर केवल On page पर ध्यान देते है और उम्मीद करते है अच्छे रिजल्ट की | मान लेते है की on page की वजह से वेबसाइट का सर्च इंजन पर रिजल्ट अच्छा भी आ गया लेकिन मार्किट मे बहुत competition होने की वजह से सर्च इंजन मे रैंकिंग बनाये रखना बहुत बड़ा challenge है इसलिए ही long term के लिए आपको आपकी वेबसाइट की ब्रांडिंग एंड लिंक बिल्डिंग करनी जरुरी है जिससे की फ्यूचर मे भी आपकी वेबसाइट अच्छी रैंक बना के रख पाए | Off page factors मे लिंक बिल्डिंग, सोशल मीडिया, videos, social relations, blogging, comment, guest post आदि बहुत इम्पोर्टेन्ट role play करते है | इसके साथ साथ आपके सोशल relations भी बहुत इम्पोर्टेन्ट होते है जैसे की अगर आप किसी दूसरे ब्लॉगर वेबसाइट पर या सोशल मीडिया पर लिंक शेयर करते है तो आपके सोशल रिलेशन्स की वजह से आपके लिंक को जल्दी ही approval मिलने के साथ साथ शेयर भी किया जा सकता है |

Actually Off page SEO, search engine को ये बताता है की आपकी वेबसाइट की socially कितनी वैल्यू है एवं दूसरे लोग आपको कितना seriously लेते है |

Off Page SEO benefits –

  1. वेबसाइट रैंकिंग increase करने के लिए
  2. PageRank बढ़ाने के लिए 
  3. ज्यादा पहुंच बढ़ाने के लिए

Read Also – Top 10 Best Hindi Tech Blog

Read Also – what is backlinks in seo

Leave a Reply